आज 16वें दिन जारी रहा अनशन, मध्य प्रदेश सरकार अभी भी मौन

आज 16वें दिन जारी रहा अनशन, मध्य प्रदेश सरकार अभी भी मौन
 
मेधा पाटकर को प्रशासनिक बाधाओं के कारण एसडीएम के समक्ष कुक्षी कोर्ट में प्रत्यक्ष पेश नहीं किया पुलिस ने, वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग की कोशिश रही नाकाम, कल तीसरे दिन जारी रहेगी सुनवाई
धार जिला अस्पताल से सभी अनशनकारी हुए रिहा, चिखल्दा पहुंच कर अनशन स्थल में फिर से जमे
बड़वानी | 11 अगस्त, 2017 : मेधा पाटकर की 9 अगस्त को हुई गिरफ्तारी के बाद सरकार आज दूसरे दिन भी कोर्ट में पेश नहीं कर पाई, वहीँ जेल से सीधे वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग द्वारा संपर्क साधने की कोशिश भी काम नहीं कर पायी | कल तीसरे दिन सुनवाई जारी रहेगी जब मेधा पाटकर का नर्मदा घाटी के प्रभावितों, जल, जंगल, लाखों पेड़, स्कूल, स्थापित गाँव, व पूरी नर्मदा घाटी को सरकार द्वारा गैर कानूनी डूब और जबरन बेदखली किये जाने के खिलाफ 27 जुलाई से अनशन जारी हैं | आज अनशन का 16वां दिन है | जब नर्मदा बचाओ आन्दोलन पिछले 32 सालों से अहिंसक रूप से चलता आ रहा है तब प्रशासनिक बाधाएं बताकर मेधा पाटकर की पेशी ना करना कोर्ट में और वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग से शासनात्मक देरी कर उनके सत्याग्रह और अनशन का अपमान कर रही है | इस संघर्ष से लाखों लोगों की ज़िन्दगी जुडी है और पूरी नर्मदा घाटी का पर्यावरण और जलवायु प्रभावित होने वाला है |


वहीँ दूसरी ओर धार जिला अस्पताल से सभी अनशनकारियों को रिहा कर दिया गया और सभी साथी वहां से सीधे चिखल्दा पहुचते हुए अन्य साथियो द्वारा जारी अनशन में शामिल हो गए | आज उनके जज्बे के स्वागत में कई गीत गाये गए और इस संकट की स्थिति में न्याय की तराजू स्थापित कर मेहनतकशों के मेहनत और सरकारी के काम का तौल किया गया जिसमें हर बार की तरह मेहनत का पलड़ा भारी रहा | इससे लोग सरकार को मेहनत करने की गुजारिश करते हुए कहना चाहते हैं कि सरकार ऐसे झूठ बोलकर घाटी के लाखों लोगों को डूबाना बंद करें और धरातल पर आकर लोगों से बात करें और सही सच्चाई जानने के लिए आन्दोलन से बात करते हुए अपनी लोगों के प्रति जिम्मेदारी निभाएं |
 
 

वहीँ जन आंदोलनों का राष्ट्रीय समन्वय की सलाहकार सुनीति एस आर ने अपना सन्देश देते हुए बताया कि उन्हें आज चंपारण सत्याग्रह की याद आ रही है | तब गांधीजी ने चंपारण में प्रवेश न करने की अंग्रेजों की शर्त कोर्ट में नामंजूर की थी | उनका वह बयान ऐतिहासिक है | लेकिन तब ब्रिटिश सरकार ने गांधीजी पर लगाये आरोप हटा लिए थे और उन्हें मुक्त किया था | अब क्या होगा ? ये देखने का विषय होगा |

 
 

इसके साथ आज बिहार की राजधानी पटना में आश्रय अभियान ने प्रदर्शन करते हुए मध्य प्रदेश सरकार से फ़ौरन संवाद करने की अपील की और मेधा पाटकर व अन्य गिरफ्तार साथियों बिना किसी शर्त रिहा करने का आग्रह किया |

 



राहुल यादव, मुकेश भगोरिया, मोहन भाई, श्यामा बहन, कमला यादव
संपर्क +91 9179617513 / 9867384307

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s