AAP reaction on oil price surge

AAP/PR/PetrolPriceHike

पेट्रोल-डीज़ल की आड़ में आम जनता की जेब पर डाका डाल रही है भाजपा सरकार: AAP  

सोमवार को एक बयान जारी करते हुए आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज और प्रवक्ता राघव चड्ढा ने कहा कि देश में इस वक्त पेट्रोल के दाम आसमान छू रहे हैं। अंतर्राष्ट्रीय बाज़ार में कच्चा तेल सस्ता है लेकिन बावजूद इसके पेट्रोल-डीज़ल के दाम शिखर पर हैं।

सौरभ भरद्वाज ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में कच्चे तेल के दाम इतने ज़्यादा नहीं हैं लेकिन फिर भी पूरे देश में पेट्रोल-डीज़ल के दाम आसमान छू रहे हैं। ताज़ा आंकड़ों का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि आज दिल्ली में पेट्रोल के दाम ₹76.24 हैं, कोलकाता में ₹78.91 है, चेन्नई में ₹79.13 है, जबकि मुम्बई में ₹84.07 हैं। हालांकि अंतर्राष्ट्रीय बाज़ार में कच्चे तेल के दाम साल 2013 के मुकाबले काफ़ी कम हुए हैं। समझ नहीं आता कि जब क्रूड ऑयल के दाम में गिरावट आई है तो भारतीय बाज़ार में पेट्रोल-डीज़ल के दाम कम करने की बजाए बढ़ाए क्यों जा रहे हैं? निश्चित ही यह एक बड़े घोटाले को संकेत देता है।

राष्ट्रीय प्रवक्ता राघव चड्ढा ने पेट्रोल-डीज़ल की बढ़ती कीमतों को लेकर भाजपा सरकार को घेरते हुए कहा कि “बहुत हुई महंगाई की मार अबकी बार मोदी सरकार” का नारा देकर, जनता से वोट मांगकर सत्ता में आई मोदी सरकार ने देश की जनता के साथ विश्वासघात किया है। जब से मोदी सरकार सत्ता में आई है, हर क्षेत्र में चाहे वो पेट्रोल-डीज़ल हो, घरेलु गैस हो या फिर खाने पीने के ज़रूरत की चीज़ें हो, सभी क्षेत्रों में महंगाई ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं।

साल 2013 में जब डॉलर के मुकाबले रुपया ₹63.88 पर था तब अंतर्राष्ट्रीय बाज़ार में कच्चे तेल की क़ीमत लगभग 109 डॉलर प्रति बैरल पर थी तब दिल्ली में पेट्रोल के दम 69 रूपए और डीज़ल के दाम 64 रूपए के आसपास थे। जब मोदी जी की सरकार सत्ता में आई तो कच्चे तेल की कीमत घटकर एक समय 30 डॉलर प्रति बैरल हो भी गई, लेकिन मोदी जी ने पेट्रोल के दाम में आम आदमी को किसी भी प्रकार की कोई राहत नहीं दी।

दिन-ब-दिन महंगाई बढ़ती जा रही है और आज तो स्तिथि ऐसी हो गई है कि अब अगर 2-4 दिन महंगाई ना बढ़ें तो एक आम आदमी को घबराहट होने लगती है। एक लीटर पेट्रोल खरीदने में एक आम आदमी जो कीमत दे रहा है उसका लगभग 50% टैक्स के रूप में सरकारी खज़ाने में चला जाता है। और फिर जनता की गाढ़ी कमाई का ये पैसा नीरव मोदी और विजय माल्या जैसे बड़े-बड़े उद्योगपतियों पर लुटाया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि जब से मोदी सरकर सत्ता में आई है लगभग 200% एक्साइज ड्यूटी पेट्रोल पर और लगभग 450% एक्साइज़ ड्यूटी डीज़ल पर मोदी सरकार द्वारा बढाई जा चुकी है।

केंद्र में बैठी भाजपा ने चुनाव से पहले वादा किया था कि सरकार में आने के बाद पेट्रोल के दाम कम किए जाएंगे और मंहगाई पर लगाम लगाई जाएगी लेकिन हो इसका उल्टा रहा है। आम आदमी पार्टी का मानना है कि पेट्रोल-डीज़ल के ज़रिए एक बड़े घोटाले को अंजाम दिया जा रहा है। मोदी सरकार ने झूठ बोलकर एक आम आदमी की पीठ में छुरा घोपा है। मोदी सरकार को अपने इस कृत्य पर शर्म आनी चाहिए, और अपने इस झूठ के लिए देश की जनता से मोदी जी को माफ़ी मांगनी चाहिए।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s